Cricket News : बॉल टेंपरिंग नियमों में बदलाव की तैयारी...पढ़े



कोरोना वायरस कोरोना वायरस के कारण आने वाले वक्त क्रिकेट में कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका को देखते हुए लाल बोल को चमकाने के लिए अब लाल की

जगह आर्टिफिशियल पदार्थ के इस्तेमाल को मंजूरी दी जा सकती है।

लार से गेंद की साईंन चमका कर रखते हैं खिलाड़ी, स्टीव बॉलिंग में भी मिलती है मदद।

आईसीसीआई की मेडिकल कमेटी के प्रमुख पीटर हर कोर्ट ने कहा कोरोनावायरस के चलते क्रिकेट में गेंद कोलार से चमकाना खतरनाक हो सकता है।

आईसीसीआई के मौजूदा नियमों के मुताबिक आर्टिफिशियल से गेंद चमकाने को बॉल टेंपरिंग माना जाता है।

बॉल टेंपरिंग के मामले में डेविड वॉर्नर
ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट डेविड वॉर्नर को मार्च 2018 में बॉल टेंपरिंग का दोषी पाया गया था। टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ वॉर्नर पर 1 साल का प्रतिबंध भी लगा था।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां